[ad_1]

मेरठ. पश्चिम उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) में लगातार हो रही बारिश (Heavy Rainfall) की वजह से सोमवार को किसानों का रेल रोको आंदोलन (Rail Roko Aandolan) ज्यादा असरदार नहीं रहा. गिनती के ही किसान रेलवे ट्रैक पर पहुंचे और उन्हें किसान एकता ज़िन्दाबाद के नारे लगाए. किसान नेताओं ने माना कि वेस्ट यूपी में लगातार बारिश हो रही है. इस वजह से लोगों की संख्या कम है. किसानों से ज्यादा फोर्स की भी मौजूदगी रही. भारी मात्रा में फोर्स हर उस जगह पर तैनात है जहां जहां रेल रोकने की संभावनाएं थीं.
संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर सुबह 10 बजे मेरठ में कम संख्या के ब बावजूद किसानों का रेल रोको आंदोलन शुरू हुआ. सकौती रेलवे स्टेशन पर भाकियू के बैनर तले किसान रेल पटरियों के बीच आकर धरने पर बैठे. हालांकि इस दौरान अभी कोई ट्रेन वहां से नहीं गुजरी है. रेल पटरियों के बीच किसान धरने पर बैठे रहे. पुलिस प्रशासन के अधिकारी किसानों से बातचीत कर रहे हैं. किसानों का कहना है कि वह शांतिपूर्ण ढंग से रेल रोको आंदोलन का कार्यक्रम कर रहे हैं. इस दौरान मेरठ सिटी स्टेशन, कैंट स्टेशन, दौराला, सकौती, परतापुर, मोहिउद्दीनपुर में पुलिस फोर्स, मजिस्ट्रेट तैनात कर दिए गए. वहीं किसान शांतिपूर्ण ढंग से रेल पटरियों के बीच धरने पर बैठे.
वेस्ट यूपी में जारी है बारिश का सिलसिलाइधर मेरठ में बारिश भी लगातार जारी है. मेरठ और आसपास के जिलों में आज सुबह से ही तेज बारिश का सिलसिला शुरू हो गया. जगह जगह जलभराव भी हो गया. शामली, सहारनपुर, बागपत, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, मेरठ, बिजनौर में रुक रुक कर बारिश हो रही है. आसमान में घने बादल छाए हुए हैं. मेरठ में मौसम वैज्ञानिक एन सुभाष ने कहा कि पूरे पश्चिमी यूपी में बारिश अभी जारी रहेगी. बारिश की वजह से मेरठ का एअर क्वालिटी इंडेक्स भी सुधरा है.पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link