[ad_1]

नोएडा. दिल्ली-एनसीआर में बदमाशों की अब शामत आ गई है. एनसीआर में क्राइम (Crime) रोकने के लिए दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद (Ghaziabad) पुलिस ने एक प्लान तैयार किया है. अच्छी बात यह है कि प्लान के पहले ही दिन पुलिस ने 22 नामी बदमाशों को हिरासत में लिया है. रविवार को नोएडा (Noida) के खोड़ा में यह अभियान चलाया गया था. इसमे दुर्गेश नाम का वो बदमाश भी पकड़ा गया है जिसके खिलाफ 65 मुकदमे दर्ज हैं. क्राइम पर रोक लगाने के लिए बने इस प्लान को “ऑपरेशन प्रहार-2” नाम दिया गया है. ऑपरेशन प्रहार खासतौर उन अपराधियों के खिलाफ चलेगा जो हाल ही में जेल से छूटे हैं और दिल्ली-एनसीआर  (Delhi-NCR) में अपराधों को अंजाम दे रहे हैं.
120 पुलिस के जवानों ने 3 घंटे तक चलाया ऑपरेशन प्रहार
ऑपरेशन प्रहार का 5 सितम्बर को पहला दिन था. रविवार को पहले दिन गौतम बुद्ध नगर के पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के निर्देशन में ऑपरेशन प्रहार-2 के तहत गौतम बुद्ध नगर पुलिस, गाजियाबाद, और दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन नोएडा के खोड़ा में चलाया गया. ऑपरेशन के तहत खोडा में रहने वाले ऐसे अपराधियों जो दिल्ली-एनसीआर के इलाकों और में लूट करने वाले 20 संदिग्ध अपराधियों के घरों में सर्च ऑपरेशन चलाया गया. इस दौरान 120 पुलिसकर्मियों ने करीब 3 घण्टे तक सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया. इस ऑपरेशन के तहत 22 संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया गया.
पुलिस की मानें तो इस सर्च ऑपरेशन के दौरान पुलिस के हत्थे दुर्गेश नाम का बदमाश भी चढ़ गया. दुर्गेश एक बेहद शातिर बदमाश बताया जाता है. दुर्गेश के खिलाफ अलग-अलग पुलिस स्टेशन में करीब 65 मुकदमें दर्ज है. दुर्गेश को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.
Delhi-NCR: टोल टैक्स बचाने के चक्कर में लुटेरों का शिकार बन रहे कार चालाक
ऑपरेशन प्रहार-2 में पहले दिन ये अफसर रहे शामिल
ऑपरेशन प्रहार-2 के तहत पहले दिन कमिश्नरेट गौतम बुद्ध नगर से एसीपी-1 नोएडा अंकित शर्मा, एसीपी-2 नोएडा रजनीश कुमार,  थाना प्रभारी सेक्टर 58 के साथ ही अन्य नोएडा जोन के थाना सेक्टर 24, थाना सेक्टर 20, थाना सेक्टर 39,  थाना एक्सप्रेस वे का पुलिस बल मौजूद था. इस दौरान गाजियाबाद से क्षेत्राधिकारी इन्द्रापुरम अभय मिश्रा और उनकी टीम के साथ दिल्ली पुलिस के जवानों ने भी इस ऑपरेशन प्रहार में हिस्सा लिया.

ऑपरेशन प्रहार-2 के अन्तर्गत 22 लोगो को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. साथ ही पुलिस आयुक्त गौतम बुद्ध नगर के निर्देशन में सभी संदिग्ध लोगों का डोजियर तैयार किया जा रहा है. इसके अलावा इस प्रकार के गंभीर प्रवृत्ति के अपराधियों के खिलाफ ऑपरेशन प्रहार भविष्य में भी जारी रहेगा.

[ad_2]

Source link