[ad_1]

Harmful Foods in Diabetes: हमारी सेहत खाने पर निर्भर करती है. हम जो कुछ भी खाते हैं, वही शरीर के लिए अच्छा या बुरा बनता है. डायबिटीज के मरीजों को तो अपने खानपान का ज्यादा ध्यान रखना चाहिए. क्योंकि, एक गलत चीज का सेवन उनके लिए दिक्कत खड़ी कर सकता है. क्योंकि, कुछ चीजें खाने से ब्लड शुगर अचानक हाई होकर जहर जैसा कार्य कर सकता है.
इस आर्टिकल में ऐसी 3 सफेद चीजों के बारे में बताया जा रहा है, जिनका सेवन मधुमेह रोगियों को नहीं करना चाहिए. वरना उन्हें हाई ब्लड शुगर (High blood sugar) की समस्या हो सकती है और डॉक्टर के पास जाना पड़ सकता है.
ये भी पढ़ें: National Nutrition Week: डायबिटिक पेशेंट बेधड़क खा सकते हैं ये फूड, जानें मधुमेह के लिए हेल्दी डायट
डायबिटीज में 3 हानिकारक सफेद फूड (3 Harmful White Food in Diabetes)कंसल्टेंट डाइटिशियन डॉ. रंजना सिंह के मुताबिक, मधुमेह रोगी के डाइट में जीआई यानी ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Glycemic Index) में हाई वैल्यू वाले फूड्स (High GI Foods) को शामिल नहीं करना चाहिए. क्योंकि हाई जीआई इंडेक्स वाले फूड अचानक और तेजी से ब्लड शुगर का स्तर बढ़ाते हैं, जो कि मधुमेह रोगी के लिए खतरनाक हो सकता है.
मैदाडायबिटिक पेशेंट (Diabetic Patient) को मैदा का सेवन नहीं करना चाहिए. क्योंकि, डॉ. रंजना सिंह के मुताबिक मैदा की जीआई वैल्यू 72-75 के बीच होती है. जो कि अचानक व तेजी से रक्त ग्लूकोज का स्तर बढ़ाते हैं. मैदा से बनने वाले समोसे, कचौड़ी और यहां तक कि ब्रेड का सेवन भी मधुमेह रोगी के लिए नुकसानदायक होता है.
ये भी पढ़ें: Health Tips: खाली पेट भूलकर भी ना करें ये 6 काम, तुरंत खराब हो जाएगी हालत
आलूआलू एक ऐसी सब्जी है, जिसे खाने के कई तरीके हैं. आप आलू भूनकर खा सकते हैं, इसके चिप्स बनाकर खा सकते हैं, सब्जी बनाकर खा सकते हैं और उबले आलू भी खा सकते हैं. लेकिन डॉ. रंजना सिंह का कहना है कि आलू का किसी भी रूप में सेवन डायबिटीज में अच्छा नहीं है. क्योंकि, आलू की जीआई वैल्यू करीब 78-85 के बीच हो सकती है. तो आप मैदा के साथ आलू को भी नुकसानदायक सफेद फूड की लिस्ट में रखें.
सफेद चावलभारत में अगर कोई ऐसा फूड है, जिसे उत्तर से लेकर दक्षिण और पूर्व से लेकर पश्चिम तक भारी लोकप्रियता मिली हुई है, तो सफेद चावल उनमें से एक है. लेकिन, किसी भी मधुमेह रोगी के लिए इसका सेवन काफी खतरनाक हो सकता है. जो कि ब्लड शुगर अचानक हाई कर सकता है. एक्सपर्ट के मुताबिक, सफेद चावल की ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू 73-78 के बीच हो सकती है.
यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.

[ad_2]

Source link