[ad_1]

मुंबई: टीम इंडिया (Team India) के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) अक्सर ‘कैप्टन कूल’ (Captain Cool) एमएस धोनी (MS Dhoni) के खिलाफ बयान देते हुए नजर आते हैं, लेकिन इस बार उनके सुर बदले हुए नजर आ रहे हैं.
गंभीर ने की धोनी की तारीफगौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का मानना है कि महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) की टी20 वर्ल्ड कप 2021 (T20 World Cup 2021) के लिए टीम इंडिया के मेंटर के तौर पर नियुक्ति उनके तजुर्बे और दबाव झेलने की मानसिकता की वजह हुई है.

धोनी को मेंटर बनाने के फायदे
गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने साथ ही कहा कि टीम इंडिया (Team India) के यंग प्लेयर्स को एमएस धोनी (MS Dhoni) के अनुभव का फायदा मिलेगा क्योंकि वह दबाव भरी स्थिति को संभालना जानते हैं. बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बुधवार को धोनी को टी20 विश्व कप के लिए भारत का मेंटर नियुक्त किया था.
यह भी पढ़ें- टी20 वर्ल्ड कप: धोनी को टीम इंडिया का मेंटर बनाने पर बवाल, इस वजह से फंसा है पेंच
‘धोनी को टी-20 का तजुर्बा’गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा, “मुझे यकीन है कि धोनी की भूमिका परिभाषित है क्योंकि आपके पास मुख्य कोच, सहायक कोच और गेंदबाजी कोच हैं. मुझे यकीन है कि विराट कोहली या रवि शास्त्री से कुछ ऐसा होना चाहिए जो वे चाहते हैं कि उनके पास पहले से ही क्या है क्योंकि भारत टी20 क्रिकेट में बहुत सफल रहा है.’
 

धोनी हैं राइट च्वाइसगौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा, ‘अगर भारत ने टी20 क्रिकेट में जद्दोजहद की होती, तो उन्हें बाहर से किसी को लाना पड़ सकता था, लेकिन धोनी का अनुभव और उन संकटपूर्ण खेलों में दबाव को संभालने की उनकी मानसिकता एक कारण हो सकता है कि उन्होंने उन्हें एक संरक्षक के रूप में प्राप्त किया है.’ 

[ad_2]

Source link