शिवहरि दीक्षित/ हरदोई. देश के किसान आमदनी को बढ़ाने के लिए पारंपरिक फसलों को उगाने के अलावा भी कई प्रकार के फल और सब्जियां उगा रहे हैं.  हम बात कर रहे हैं एक ऐसे फल की जिसे ड्रैगन फ्रूट के नाम से जाना जाता है. यूपी के हरदोई में भी एक किसान के द्वारा इस ड्रैगन फ्रूट की खेती की जा रही है. वह इसे प्राकृतिक तरीके से कर रहे हैं. बाजार में भी अब ड्रैगन फ्रूट की मांग बढ़ती जा रही है, इसलिए किसानों को भी अच्छा पैसा मिल जाता है.

हरदोई के पहाड़पुर गांव के निवासी ओम प्रकाश मौर्या अपने खेतों में गेहूं, गन्ना, धान की फसल ना करके वह एक खास किस्म की खेती कर रहे हैं. यह खास किस्म की खेती विदेशी फल ड्रैगन फ्रूट की है, जिसे हरदोई के ओमप्रकाश अपने तीन बीघे के खेत मे 300 खंभों पर लगभग 1200 पौधे लगाकर कर रहे हैं. दो साल पहले इनके द्वारा इस खेती की शुरुआत की गई थी जिस पर अब फल आना शुरू हो चुके हैं.

एक बार की लागत 30 वर्षों तक कमाईहरदोई के ओमप्रकाश मौर्या ने विदेशी फल ड्रैगन फ्रूट की खेती कर रखी है. उनका मानना है कि जितना वह गेहूँ, धान या फिर अन्य फसलों में नहीं कमा पाते उससे ज्यादा इस खास तरह की खेती में कमा सकते हैं. वह बताते हैं कि उनकी इस फसल को तैयार करने में उनकी कुल लागत 6 लाख रुपये तीन बीघे में आई है. अब यह इस फसल से आमदनी की उम्मीद प्रति वर्ष ढाई से तीन लाख रुपये लगा रहे हैं और यह आमदनी उनकी एक बार लागत लगने के बाद पूरे 25 से 30 वर्षों तक होती रहेगी.

स्वास्थ्य के लिए भी होता है लाभदायकड्रैगन फ्रूट पोषक तत्वों से भरपूर होता है इसमें तमाम प्रकार की ऐसी विटामिन होती हैं जो हमारे शरीर के लिए लाभदायक हैं. यह फल मधुमेह और कैंसर जैसी बीमारियों की संभावनाओं को कम करता है. साथ ही यह इम्युनिटी बूस्टर का भी काम करता है.

.Tags: Agriculture, Hardoi News, Local18, Uttar pradesh newsFIRST PUBLISHED : August 25, 2023, 21:14 IST



Source link